Us Election 2020 Latest News Presidential Election Final Debate Live Updates Donald Trump Joe Biden Coronavirus Vaccine Economy Children Border – Us Election: राष्ट्रपति चुनाव बहस: डोनाल्ड ट्रंप बोले- कुछ हफ्तों में ला रहे हैं कोरोना वैक्सीन

    0
    13


    अमेरिकी चुनाव 2020: डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन
    – फोटो : ANI

    पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


    कहीं भी, कभी भी।

    *Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

    ख़बर सुनें

    अमेरिका में तीन नवंबर को मतदान होने हैं। इसके मद्देनजर नेश्विल में शुक्रवार को राष्ट्रपति पद के लिए दूसरी और आखिरी बहस हुई। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेट के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने इसमें हिस्सा लिया। कुल 90 मिनट की बहस को 15-15 मिनट के 6 हिस्सों में बांटा गया। इससे पहले दोनों के बीच पिछले महीने तीखी बहस हुई थी। जिसमें दोनों ने ही अपनी-अपनी जीत का दावा किया था। आज हुई बहस में कोरोना वायरस, कोविड-19 वैक्सीन, नस्लवाद और जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर दोनों उम्मीदवारों ने जमकर बहस की। बिडेन ने कहा कि जिस व्यक्ति के कारण लाखों अमेरिकियों की जान गई है। उसे पद पर बने रहने का हक नहीं है। ट्रंप ने इन आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि हम जल्द ही वैक्सीन लेकर आ रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि तीन नवंबर को होने वाले चुनाव से पहले वैक्सीन आने की संभावना नहीं है।

    ट्रंप की वजह से गई लाखों अमेरिकियों की जान

    बिडेन ने कहा, ‘एक ऐसा व्यक्ति जिसकी वजह से लाखों अमेरिकियों की जान गई हो। जो महामारी का जिम्मेदार हो। उसे राष्ट्रपति पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है। ट्रंप के पास महामारी से निपटने की कोई योजना नहीं थी। मैं आपको भरोसा दिलता हूं कि यदि मैं सत्ता में आया तो सभी को मास्क पहनना होगा। कोरोना जांच बढ़ाई जाएगी।’ इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘आप गलत और बिना जानकारी के आरोप लगा रहे हैं। हमने हर मुमकिन कोशिश की। अमेरिका ही नहीं बल्कि दुनिया का हर देश इस महामारी की चपेट में है। कुछ ही हफ्तों में हम वैक्सीन लेकर आ रहे हैं। महामारी के कारण हम अमेरिका को बंद नहीं कर सकते। हमें बेसमेंट में छिपना मंजूर नहीं।’

    नस्लवाद के मुद्दे पर बिडेन बोले- ट्रंप ने हर नस्लवाद वाली आग को भड़काया है

    अमेरिका में नस्लवाद के मुद्दे पर ट्रंप ने कहा कि ब्लैक लाइव्स मैटर को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोग सड़कों पर पुलिस को सूअर कह रहे थे। मुझे लगा कि यह भयानक बात है। मुझे लगता है कि मेरे सभी लोगों के साथ अच्छे संबंध हैं। मैं इस कमरे में सबसे कम नस्लवादी व्यक्ति हूं। मैं दर्शकों को नहीं देख सकता, लेकिन मैं इस कमरे में सबसे कम नस्लवादी व्यक्ति हूं। ट्रंप को जवाब देते हुए बिडेन ने कहा, ‘आपने हर नस्लवादी आग को भड़काया है।’

    बिडेन के साथ जलवायु परिवर्तन पर बहस करते हुए ट्रंप बोले- भारत गंदा है

    जलवायु परिवर्तन पर, ट्रंप ने अमेरिका की तुलना अन्य देशों से करते हुए कहा, ‘चीन, रूस, भारत को देखो, वे कितने गंदे हैं। वहां की हवा खराब है।’ ट्रंप ने कहा कि वे पेरिस समझौते से इसलिए बाहर हो गए क्योंकि यह अनुचित था। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास सबसे स्वच्छ हवा, सबसे साफ पानी और सबसे अच्छा कार्बन उत्सर्जन है।’ जो बिडेन ने कहा, ‘मानवता के लिए अगला सबसे बड़ा खतरा ग्लोबल वार्मिंग है। हमारा एक नैतिक दायित्व है। इस आदमी (ट्रंप) को और चार साल देने से, हम एक ऐसी स्थिति में आ जाएंगे जो हमें वास्तविक संकट में डाल देगी।’

    तीन नवंबर को होने वाले मतदान से पहले नहीं आ सकता कोरोना का टीका: ट्रंप
    बहस के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने महामारी को कम करने के साथ-साथ इसे हराने के लिए अपनी भूमिका पर प्रकाश डाला। ट्रंप ने घोषणा की कि यह संभावना नहीं है कि तीन नवंबर को होने वाले चुनाव से पहले कोविड-19 का टीका उपलब्ध होगा। उन्होंने यह भी कहा कि इसे संभवत: सेना द्वारा वितरित किया जाएगा। हालांकि उन्होंने कहा कि हम बहुत जल्द वायरस की वैक्सीन लेकर आ रहे हैं। व्यक्तिगत अनुभव से बताना चाहूंगा कि मैंने वो लिया है। मैं अस्पताल में था। मैं बहुत तेजी से बेहतर हुआ और अब वे कह रहे हैं कि मैं इम्युन हूं। अधिक से अधिक लोग बेहतर हो रहे हैं।

    ट्रंप ने बिडेन से कहा- मैंने चुनाव लड़ा क्योंकि तुमने बुरा काम किया था

    डोनाल्ड ट्रंप ने बिडेन से कहा, ‘मैंने आपकी वजह से चुनाव लड़ा। मैंने इसलिए चुनाव लड़ा क्योंकि आपने बुरा काम किया था। अगर आपने अच्छा काम किया होता, तो मैं राष्ट्रपति पद के लिए कभी चुनाव नहीं लड़ता।’ इसका जवाब देते हुए बिडेन ने कहा, ‘हमारी प्रतिष्ठा मतपत्र में है। हमें करीब से देखिए।’

    सीमा पर बच्चों का अलग होना

    डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन ने कल सामने आई एक रिपोर्ट पर चर्चा की, जिसमें दावा किया गया है कि अमेरिकी-मैक्सिको सीमा पर अलग हुए 545 बच्चों के माता-पिता नहीं मिले हैं। चुनाव संबंधी बहसों में इमिग्रेशन की चर्चा पहले कभी नहीं हुई। ट्रंप से जब पूछा गया कि बच्चों को उनके माता-पिता से मिलाने की क्या योजना है, तो उन्होंने कहा, ‘हम इस पर काम कर रहे हैं। हम बहुत कोशिश कर रहे हैं।’ ट्रंप ने दावा किया कि बच्चों ने कार्टेल या कोयटॉय में सीमा पार की थी। इसपर बिडेन ने कहा कि बच्चे माता-पिता के साथ आए थे और सीमा पर अलग हो गए।

    ट्रंप ने पैलोसी को ठहराया जिम्मेदार

    एनबीसी न्यूज संवाददाता क्रिस्टन वेलकर ने अर्थव्यवस्था विषय को चर्चा के लिए रखा। उन्होंने कहा कि 12 मिलियन लोगों के पास काम नहीं हैं और आठ मिलियन गरीब हो गए हैं। सबसे ज्यादा महिलाएं इससे प्रभावित हुई हैं। उन्होंने राष्ट्रपति से पूछा कि इसपर आपकी क्या योजना है। इसके जवाब में ट्रंप ने एक प्रस्ताव को पारित करने में विफल रहने के लिए नैंसी पेलोसी को दोषी ठहराया। राष्ट्रपति के दावे से इतर एनवाईटी फैक्ट चेक ने दावा किया कि सीनेट रिपब्लिकन कि वजह से यह प्रस्ताव रुका हुआ है।

    बिडेन बोले- स्वास्थ्य सेवा विशेषाधिकार नहीं, बल्कि अधिकार है
    स्वास्थ्य सेवा पर ट्रंप ने कहा, ‘हमने स्वास्थ्य सेवा पर एक अविश्वसनीय काम किया है, और हम इसे और भी बेहतर करेंगे।’ एनवाईटी ने कहा, ‘ट्रंप और रिपब्लिकन बार-बार कहते हैं कि उनके पास स्वास्थ्य देखभाल के लिए एक वैकल्पिक योजना है, लेकिन उन्होंने कभी यह नहीं बताया कि वह क्या है।’ इसी बीच बिडेन कहते हैं, ‘मैं सार्वजनिक विकल्प के साथ ओबामाकेयर पास करूंगा। दूसरा, हम प्रीमियम और दवा की कीमतें कम करेंगे। मैं निजी बीमा का समर्थन करता हूं।’ सरकार द्वारा स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को लेकर जारी चिंताओं के बारे में बिडेन ने कहा, ‘स्वास्थ्य सेवा विशेषाधिकार नहीं है, यह एक अधिकार है। यह लोगों की जान बचाएगा, लोगों को एक अवसर देगा।’

    यूक्रेन लिंक पर बिडेन बोले- मैंने अपना काम ठीक तरह से किया

    जो बिडेन ने अपने कथित यूक्रेन संबंधों का जवाब देते हुए कहा, मैंने अपना काम अच्छी तरह से किया। मैंने अमेरिकी नीति को अंजाम दिया। एक भी चीज लाइन से बाहर नहीं थी। दूसरा, वह व्यक्ति जिसे यूक्रेन में परेशानी हुई वो (ट्रंप) थे, जिन्होंने मेरे खिलाफ बोलने के लिए किसी को वहां पहुंचाने की कोशिश की। मेरे बेटे ने कुछ नहीं किया है। बिडेन ने ट्रंप पर चीन को किए गए भुगतान को लेकर निशाना साधा।

    अमेरिका में तीन नवंबर को मतदान होने हैं। इसके मद्देनजर नेश्विल में शुक्रवार को राष्ट्रपति पद के लिए दूसरी और आखिरी बहस हुई। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेट के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने इसमें हिस्सा लिया। कुल 90 मिनट की बहस को 15-15 मिनट के 6 हिस्सों में बांटा गया। इससे पहले दोनों के बीच पिछले महीने तीखी बहस हुई थी। जिसमें दोनों ने ही अपनी-अपनी जीत का दावा किया था। आज हुई बहस में कोरोना वायरस, कोविड-19 वैक्सीन, नस्लवाद और जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर दोनों उम्मीदवारों ने जमकर बहस की। बिडेन ने कहा कि जिस व्यक्ति के कारण लाखों अमेरिकियों की जान गई है। उसे पद पर बने रहने का हक नहीं है। ट्रंप ने इन आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि हम जल्द ही वैक्सीन लेकर आ रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि तीन नवंबर को होने वाले चुनाव से पहले वैक्सीन आने की संभावना नहीं है।

    ट्रंप की वजह से गई लाखों अमेरिकियों की जान

    बिडेन ने कहा, ‘एक ऐसा व्यक्ति जिसकी वजह से लाखों अमेरिकियों की जान गई हो। जो महामारी का जिम्मेदार हो। उसे राष्ट्रपति पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है। ट्रंप के पास महामारी से निपटने की कोई योजना नहीं थी। मैं आपको भरोसा दिलता हूं कि यदि मैं सत्ता में आया तो सभी को मास्क पहनना होगा। कोरोना जांच बढ़ाई जाएगी।’ इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘आप गलत और बिना जानकारी के आरोप लगा रहे हैं। हमने हर मुमकिन कोशिश की। अमेरिका ही नहीं बल्कि दुनिया का हर देश इस महामारी की चपेट में है। कुछ ही हफ्तों में हम वैक्सीन लेकर आ रहे हैं। महामारी के कारण हम अमेरिका को बंद नहीं कर सकते। हमें बेसमेंट में छिपना मंजूर नहीं।’

    नस्लवाद के मुद्दे पर बिडेन बोले- ट्रंप ने हर नस्लवाद वाली आग को भड़काया है
    अमेरिका में नस्लवाद के मुद्दे पर ट्रंप ने कहा कि ब्लैक लाइव्स मैटर को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोग सड़कों पर पुलिस को सूअर कह रहे थे। मुझे लगा कि यह भयानक बात है। मुझे लगता है कि मेरे सभी लोगों के साथ अच्छे संबंध हैं। मैं इस कमरे में सबसे कम नस्लवादी व्यक्ति हूं। मैं दर्शकों को नहीं देख सकता, लेकिन मैं इस कमरे में सबसे कम नस्लवादी व्यक्ति हूं। ट्रंप को जवाब देते हुए बिडेन ने कहा, ‘आपने हर नस्लवादी आग को भड़काया है।’

    बिडेन के साथ जलवायु परिवर्तन पर बहस करते हुए ट्रंप बोले- भारत गंदा है

    जलवायु परिवर्तन पर, ट्रंप ने अमेरिका की तुलना अन्य देशों से करते हुए कहा, ‘चीन, रूस, भारत को देखो, वे कितने गंदे हैं। वहां की हवा खराब है।’ ट्रंप ने कहा कि वे पेरिस समझौते से इसलिए बाहर हो गए क्योंकि यह अनुचित था। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास सबसे स्वच्छ हवा, सबसे साफ पानी और सबसे अच्छा कार्बन उत्सर्जन है।’ जो बिडेन ने कहा, ‘मानवता के लिए अगला सबसे बड़ा खतरा ग्लोबल वार्मिंग है। हमारा एक नैतिक दायित्व है। इस आदमी (ट्रंप) को और चार साल देने से, हम एक ऐसी स्थिति में आ जाएंगे जो हमें वास्तविक संकट में डाल देगी।’



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here