Ramlala Priest Quarantined For Three Days Ban On Visiting Ramjanmabhoomi Campus – तीन दिन के लिए क्वारंटीन किए गए रामलला के मुख्य पुजारी, रामजन्मभूमि परिसर में जाने पर लगाई गई रोक

0
3


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Updated Sun, 02 Aug 2020 09:04 PM IST

आचार्य सत्येंद्र दास
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

श्रीरामजन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास को प्रशासन की टीम ने रविवार को तीन दिन के क्वारंटीन कर दिया है। इसके साथ ही उनके रामजन्मभूमि परिसर में भी जाने पर रोक लगा दी गई है। 

30 जुलाई को रामलला के एक पुजारी सहित 4 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। आचार्य सत्येंद्र दास का कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है, लेकिन मोदी के दौरे को देखते हुए सुरक्षा के लिहाजा से यह कदम उठाया गया है। ऐसी भी संभावना है कि वे पांच अगस्त को राममंदिर के भूमि पूजन समारोह में भी शामिल न हो पाएं।

रामलला के मुख्य पुजारी 83 वर्षीय आचार्य सत्येंद्र दास पिछले 28 साल से भगवान राम की पूजा-अर्चना में लगे हुए हैं। राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित करीब 200 महत्वपूर्ण व्यक्तियों को निमंत्रण दिया गया है। 

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट, यूपी सरकार व केंद्र सरकार इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित बनाने के लिए रणनीतियां बना रहा है। कोई भी चूक नहीं करना चाहता है। इसी वजह से आचार्य सत्येंद्र दास का कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बावजूद सुरक्षा को ध्यान रखते हुए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने उनके राम मंदिर परिसर में आने पर रोक लगा दी है। 

आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि उन्हें तीन दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया गया है। कहा कि राममंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल हो पाऊंगा कि नहीं, इसका निर्णय चार अगस्त को होगा।

श्रीरामजन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास को प्रशासन की टीम ने रविवार को तीन दिन के क्वारंटीन कर दिया है। इसके साथ ही उनके रामजन्मभूमि परिसर में भी जाने पर रोक लगा दी गई है। 

30 जुलाई को रामलला के एक पुजारी सहित 4 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। आचार्य सत्येंद्र दास का कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है, लेकिन मोदी के दौरे को देखते हुए सुरक्षा के लिहाजा से यह कदम उठाया गया है। ऐसी भी संभावना है कि वे पांच अगस्त को राममंदिर के भूमि पूजन समारोह में भी शामिल न हो पाएं।

रामलला के मुख्य पुजारी 83 वर्षीय आचार्य सत्येंद्र दास पिछले 28 साल से भगवान राम की पूजा-अर्चना में लगे हुए हैं। राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित करीब 200 महत्वपूर्ण व्यक्तियों को निमंत्रण दिया गया है। 

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट, यूपी सरकार व केंद्र सरकार इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित बनाने के लिए रणनीतियां बना रहा है। कोई भी चूक नहीं करना चाहता है। इसी वजह से आचार्य सत्येंद्र दास का कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बावजूद सुरक्षा को ध्यान रखते हुए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने उनके राम मंदिर परिसर में आने पर रोक लगा दी है। 

आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि उन्हें तीन दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया गया है। कहा कि राममंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल हो पाऊंगा कि नहीं, इसका निर्णय चार अगस्त को होगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here