Rahul Gandhi Attacks Centre Over Coronavirus, Ask Govt To Tackle Crisis With An Action Backed Plan – कोरोनावायरस: राहुल गांधी का केंद्र पर निशाना, कहा- सरकार को बताना चाहिए एक्शन प्लान

0
44


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Thu, 05 Mar 2020 02:24 PM IST

राहुल गांधी (फाइल फोटो)
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोनावायरस को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने संसद के दोनों सदनों में वायरस को लेकर बयान दिया था। जिसपर हमला करते हुए गांधी ने कहा कि सरकार इस संकट से निपटने के लिए कार्य योजना बनाकर उसे सार्वजनिक करे।

गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘स्वास्थ्य मंत्री कह रहे हैं कि भारत सरकार के तहत कोरोना वायरस नियंत्रित है। यह उसी तरह है कि टाइटैनिक का कैप्टन यात्रियों से कह रहा हो कि घबराइए नहीं क्योंकि यह जहाज डूब नहीं सकता। अब समय है कि सरकार इस संकट से निपटने के लिए ठोस संसाधनों के जरिए एक कार्ययोजना बनाए और उसे सार्वजनिक करे।’

 

हर्षवर्धन ने गुरुवार को इस विषय पर दोनों सदनों में दिए अपने बयान में स्थिति से निपटने के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देश में अब तक कोरोना वायरस के 29 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, इनमें केरल के वे तीन लोग भी शामिल हैं जिनमें पिछले महीने इसके संक्रमण की पुष्टि हुई थी और स्वस्थ्य होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई है।

17 जनवरी से चल रही है तैयारी: हर्षवर्धन
हर्षवर्धन ने राज्यसभा में कहा, ‘भारत में वायरस के खिलाफ 17 जनवरी से तैयारी चल रही है। देश में चार मार्च तक 29 मामलों की पुष्टि हुई है। इटली से आए पर्यटक कोरोना से संक्रमित हैं। मैं रोजाना स्थिति की समीक्षा कर रहा हूं। मंत्रियों का एक समूह भी स्थिति की निगरानी कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। एन95 मास्क और अन्य उपकरणों के एक्सपोर्ट को नियंत्रित किया गया है। जांच के लिए 15 लैब बनाए गए हैं, 19 और तैयार किए जा रहे हैं। एक कॉल सेंटर भी इसके लिए बनाया गया है।’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोनावायरस को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने संसद के दोनों सदनों में वायरस को लेकर बयान दिया था। जिसपर हमला करते हुए गांधी ने कहा कि सरकार इस संकट से निपटने के लिए कार्य योजना बनाकर उसे सार्वजनिक करे।

गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘स्वास्थ्य मंत्री कह रहे हैं कि भारत सरकार के तहत कोरोना वायरस नियंत्रित है। यह उसी तरह है कि टाइटैनिक का कैप्टन यात्रियों से कह रहा हो कि घबराइए नहीं क्योंकि यह जहाज डूब नहीं सकता। अब समय है कि सरकार इस संकट से निपटने के लिए ठोस संसाधनों के जरिए एक कार्ययोजना बनाए और उसे सार्वजनिक करे।’


 

हर्षवर्धन ने गुरुवार को इस विषय पर दोनों सदनों में दिए अपने बयान में स्थिति से निपटने के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देश में अब तक कोरोना वायरस के 29 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, इनमें केरल के वे तीन लोग भी शामिल हैं जिनमें पिछले महीने इसके संक्रमण की पुष्टि हुई थी और स्वस्थ्य होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई है।

17 जनवरी से चल रही है तैयारी: हर्षवर्धन
हर्षवर्धन ने राज्यसभा में कहा, ‘भारत में वायरस के खिलाफ 17 जनवरी से तैयारी चल रही है। देश में चार मार्च तक 29 मामलों की पुष्टि हुई है। इटली से आए पर्यटक कोरोना से संक्रमित हैं। मैं रोजाना स्थिति की समीक्षा कर रहा हूं। मंत्रियों का एक समूह भी स्थिति की निगरानी कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। एन95 मास्क और अन्य उपकरणों के एक्सपोर्ट को नियंत्रित किया गया है। जांच के लिए 15 लैब बनाए गए हैं, 19 और तैयार किए जा रहे हैं। एक कॉल सेंटर भी इसके लिए बनाया गया है।’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here