Karnataka Minister Bc Patil Said I Will Ask Central Govt To Shoot At Sight Law On Anti India Slogans – भारत विरोधी नारों पर देखते ही गोली मारने का कानून लाने को केंद्र से करूंगा बात: कर्नाटक मंत्री

0
54


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बंगलूरू
Updated Mon, 02 Mar 2020 12:34 PM IST

कर्नाटक के मंत्री बीसी पाटिल
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

कर्नाटक के मंत्री बीसी पाटिल ने एक बार फिर भारत विरोधी नारे लगाने वालों को देखते ही गोली मारने के कानून की बात कही है। पाटिल ने सोमवार को बंगलूरू में कहा कि मैं केंद्र सरकार से भारत के खिलाफ नारे लगाने वालों को देखते हुए गोली मारने का कानून लाने के लिए कहूंगा। आजकल कुछ युवाओं के लिए इस तरह से लोकप्रियता हासिल करना एक फैशन बन गया है जो देश और देशभक्ति को खराब करता है।

इससे पहले बीसी पाटिल ने चित्रदुर्ग में कहा था कि मेरे हिसाब से भारत में एक ऐसे कानून की आवश्यकता है जिसमें भारत को बुरा बोलने वाले और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को देखते ही गोली मारने का कानून हो। इसकी बहुत जरूरत है।

बीसी पाटिल ने आगे कहा था कि वे भारत के भोजन, पानी और हवा का आनंद ले रहे हैं। अगर वे पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाते हैं तो उन्हें यहां क्यों होना चाहिए? चीन में लोग अपने देश के खिलाफ बात करने से डरते हैं। मैं पीएम मोदी से अनुरोध करता हूं कि वे गद्दारों से निपटने के लिए एक सख्त कानून लाएं।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के मंच से अमूल्या नाम की लड़की ने ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए थे। हालांकि, लड़की के हाथ से तुरंत माइक छीन लिया गया था। 

बाद में लड़की को गिरफ्तार कर लिया गया और उसपर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया। अदालत ने अमूल्या को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। ओवैसी ने महिला की इस हरकत की निंदा करते हुए कहा था कि वह इससे सहमत नहीं हैं और आश्वस्त करते हैं ‘हम भारत के लिए हैं’। 

कर्नाटक के मंत्री बीसी पाटिल ने एक बार फिर भारत विरोधी नारे लगाने वालों को देखते ही गोली मारने के कानून की बात कही है। पाटिल ने सोमवार को बंगलूरू में कहा कि मैं केंद्र सरकार से भारत के खिलाफ नारे लगाने वालों को देखते हुए गोली मारने का कानून लाने के लिए कहूंगा। आजकल कुछ युवाओं के लिए इस तरह से लोकप्रियता हासिल करना एक फैशन बन गया है जो देश और देशभक्ति को खराब करता है।

इससे पहले बीसी पाटिल ने चित्रदुर्ग में कहा था कि मेरे हिसाब से भारत में एक ऐसे कानून की आवश्यकता है जिसमें भारत को बुरा बोलने वाले और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को देखते ही गोली मारने का कानून हो। इसकी बहुत जरूरत है।

बीसी पाटिल ने आगे कहा था कि वे भारत के भोजन, पानी और हवा का आनंद ले रहे हैं। अगर वे पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाते हैं तो उन्हें यहां क्यों होना चाहिए? चीन में लोग अपने देश के खिलाफ बात करने से डरते हैं। मैं पीएम मोदी से अनुरोध करता हूं कि वे गद्दारों से निपटने के लिए एक सख्त कानून लाएं।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के मंच से अमूल्या नाम की लड़की ने ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए थे। हालांकि, लड़की के हाथ से तुरंत माइक छीन लिया गया था। 

बाद में लड़की को गिरफ्तार कर लिया गया और उसपर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया। अदालत ने अमूल्या को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। ओवैसी ने महिला की इस हरकत की निंदा करते हुए कहा था कि वह इससे सहमत नहीं हैं और आश्वस्त करते हैं ‘हम भारत के लिए हैं’। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here