Four Terrorists Killed, Two Pak Soldiers Also Killed – जम्मू-कश्मीरः चार आतंकी ढेर, पाक के दो सैनिक भी मारे गए

0
3


अमर उजाला नेटवर्क, श्रीनगर/कुपवाड़ा/बारामुला
Updated Wed, 01 Jul 2020 01:20 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा पर फरकियां गली सेक्टर से घुसपैठ की बड़ी कोशिश सेना ने नाकाम कर दी। सेना की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए, जबकि एक घायल है। वहीं, अनंतनाग में मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए। इस बीच बारामुला जिले के नौगाम सेक्टर में पाकिस्तानी गोलाबारी के जवाब में पीओके में एक चौकी तबाह कर दी गई। कम से कम दो सैनिक मारे गए और पांच से अधिक घायल हुए हैं।

कुपवाड़ा जिले में एलओसी पर तैनात जवानों ने सोमवार-मंगलवार की रात आठ आतंकियों के दो ग्रुप को घुसपैठ करते देखा। इस पर आतंकियों को ललकारते हुए सेना ने भारी गोलीबारी की। सूत्रों ने बताया कि इसमें अल बद्र के दो आतंकी मारे गए और लश्कर-ए-ताइबा का एक आतंकी घायल हुआ है। यह अल बद्र और लश्कर का ग्रुप था। सेना की कार्रवाई से अन्य आतंकी डर गए और अंधेरे का फायदा उठाते हुए पीओके भाग निकले।

वहीं, इस कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्तानी सेना ने बारामुला जिले के नौगाम सेक्टर में मंगलवार को अग्रिम चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोले दागे। सेना की जवाबी कार्रवाई में पीओके में नीलम तथा लीपा घाटी में पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ा। उसकी एक चौकी तबाह हो गई। इसमें कम से कम दो सैनिक मारे गए जबकि चार से पांच घायल हो गए। इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने सोमवार शाम तंगधार सेक्टर में रावन और दर्शन चौकियों को भी निशाना बनाकर गोलाबारी की थी।

चार दिन के भीतर लिया शहादत का बदला
दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के बिजबिहाड़ा के वाघामा गांव में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को मुठभेड़ में दो आतंकियों को ढेर कर चार दिन के भीतर शहादत का बदला ले लिया। मारे गए दोनों जेकेआईएस के आतंकी जाहिद दास के साथी थे और 26 जून को बिजबिहाड़ा में सीआरपीएफ कर्मी और चार साल के मासूम की हत्या में शामिल थे। इनसे हथियार और कुछ दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकी जमीन के नीचे ठिकाना बना कर छिपे थे। आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कई बार कहा गया, लेकिन वे नहीं माने। सूत्रों के अनुसार मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे। इनमें हटिगाम बिजबिहाड़ा के यावर अहमद और मरहामा बिजबिहाड़ा के अर्शिद अहमद शामिल हैं। इन्हें डीएनए सैंपलिंग कर दफनाया जाएगा।

पुलिसकर्मी की हत्या में भी शामिल थे
अनंतनाग मुठभेड़ में प्रारंभिक सूचना थी कि मुठभेड़ में आतंकी जाहिद दास मारा गया है, जो 26 जून को बिजबिहाड़ा में सीआरपीएफ जवान और एक चार वर्षीय बच्चे की हत्या का जिम्मेदार है। बाद में आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि मारे गए आतंकियों में जाहिद शामिल नहीं है। मारे गए दो अन्य आतंकी जाहिद के साथ पिछले वर्ष एक पुलिसकर्मी की हत्या और हाल ही में सीआरपीएफ  जवान और बच्चे की हत्या में शामिल थे।

जून में सबसे ज्यादा 48 आतंकी मारे गए
आईजी विजय कुमार ने बताया कि इस साल अभी तक जून महीने में सबसे ?्यादा 48 आतंकी मारे गए हैं। इनमें से 37 केवल दक्षिणी कश्मीर में मारे जा चुके हैं।

सार

  • कुपवाड़ा में घुसपैठ नाकाम, जवाबी कार्रवाई पर पीओके में एक चौकी तबाह, कई सैनिक घायल
  • अनंतनाग में जैश के दो स्थानीय दहशतगर्दों का सफाया, 24 घंटे में पांच आतंकी हुए ढेर

विस्तार

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा पर फरकियां गली सेक्टर से घुसपैठ की बड़ी कोशिश सेना ने नाकाम कर दी। सेना की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए, जबकि एक घायल है। वहीं, अनंतनाग में मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए। इस बीच बारामुला जिले के नौगाम सेक्टर में पाकिस्तानी गोलाबारी के जवाब में पीओके में एक चौकी तबाह कर दी गई। कम से कम दो सैनिक मारे गए और पांच से अधिक घायल हुए हैं।

कुपवाड़ा जिले में एलओसी पर तैनात जवानों ने सोमवार-मंगलवार की रात आठ आतंकियों के दो ग्रुप को घुसपैठ करते देखा। इस पर आतंकियों को ललकारते हुए सेना ने भारी गोलीबारी की। सूत्रों ने बताया कि इसमें अल बद्र के दो आतंकी मारे गए और लश्कर-ए-ताइबा का एक आतंकी घायल हुआ है। यह अल बद्र और लश्कर का ग्रुप था। सेना की कार्रवाई से अन्य आतंकी डर गए और अंधेरे का फायदा उठाते हुए पीओके भाग निकले।

वहीं, इस कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्तानी सेना ने बारामुला जिले के नौगाम सेक्टर में मंगलवार को अग्रिम चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोले दागे। सेना की जवाबी कार्रवाई में पीओके में नीलम तथा लीपा घाटी में पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ा। उसकी एक चौकी तबाह हो गई। इसमें कम से कम दो सैनिक मारे गए जबकि चार से पांच घायल हो गए। इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने सोमवार शाम तंगधार सेक्टर में रावन और दर्शन चौकियों को भी निशाना बनाकर गोलाबारी की थी।

चार दिन के भीतर लिया शहादत का बदला
दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के बिजबिहाड़ा के वाघामा गांव में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को मुठभेड़ में दो आतंकियों को ढेर कर चार दिन के भीतर शहादत का बदला ले लिया। मारे गए दोनों जेकेआईएस के आतंकी जाहिद दास के साथी थे और 26 जून को बिजबिहाड़ा में सीआरपीएफ कर्मी और चार साल के मासूम की हत्या में शामिल थे। इनसे हथियार और कुछ दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकी जमीन के नीचे ठिकाना बना कर छिपे थे। आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कई बार कहा गया, लेकिन वे नहीं माने। सूत्रों के अनुसार मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे। इनमें हटिगाम बिजबिहाड़ा के यावर अहमद और मरहामा बिजबिहाड़ा के अर्शिद अहमद शामिल हैं। इन्हें डीएनए सैंपलिंग कर दफनाया जाएगा।

पुलिसकर्मी की हत्या में भी शामिल थे
अनंतनाग मुठभेड़ में प्रारंभिक सूचना थी कि मुठभेड़ में आतंकी जाहिद दास मारा गया है, जो 26 जून को बिजबिहाड़ा में सीआरपीएफ जवान और एक चार वर्षीय बच्चे की हत्या का जिम्मेदार है। बाद में आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि मारे गए आतंकियों में जाहिद शामिल नहीं है। मारे गए दो अन्य आतंकी जाहिद के साथ पिछले वर्ष एक पुलिसकर्मी की हत्या और हाल ही में सीआरपीएफ  जवान और बच्चे की हत्या में शामिल थे।

जून में सबसे ज्यादा 48 आतंकी मारे गए
आईजी विजय कुमार ने बताया कि इस साल अभी तक जून महीने में सबसे ?्यादा 48 आतंकी मारे गए हैं। इनमें से 37 केवल दक्षिणी कश्मीर में मारे जा चुके हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here