Explosion In Kabul, Many Died In Explosion Reported In Pul E Khoshk Area In West Of Kabul – अफगानिस्तानः जोरदार धमाके से दहला पश्चिमी काबुल, 18 लोगों की मौत, इस्लामिक स्टेट ने ली जिम्मेदारी

0
7


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, काबुल

Updated Sun, 25 Oct 2020 01:17 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के दश्त-ए-बारची के पुल-ए-खोश्क इलाके में शनिवार को हुए आत्मघाती हमले में कम से कम 18 लोगों के मारे गए हैं, जबकि 57 अन्य घायल हुए हैं। इनमें बच्चे भी शामिल हैं। तोलो न्यूज ने गृह मंत्रालय के प्रवक्ता तारीक एरियन के हवाले से बताया कि धमाके में कम से कम 18 लोगों की मौत हुई है। मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक धमाका पश्चिमी काबुल के शिया बाहुल्य इलाके में स्थित प्रशिक्षण केंद्र के निकट हुआ। तारीक एरियन ने बताया कि हमलावर को सुरक्षा बलों ने केंद्र में जबर्दस्ती घुसने की कोशिश करने के दौरान रोका तो उसने खुद को उड़ा दिया।

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) ने इस धमाके की जिम्मेदारी ली है। तालिबान ने इस हमले में किसी भी तरह का संबंध होने की बात नकार दी है। इससे पहले अगस्त 2018 में हुए इसी तरह के हमले की जिम्मेदारी आईएस से संबंधित संगठन ने ली थी। इस हमले में 34 विद्यार्थियों की मौत हुई थी।

 

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के दश्त-ए-बारची के पुल-ए-खोश्क इलाके में शनिवार को हुए आत्मघाती हमले में कम से कम 18 लोगों के मारे गए हैं, जबकि 57 अन्य घायल हुए हैं। इनमें बच्चे भी शामिल हैं। तोलो न्यूज ने गृह मंत्रालय के प्रवक्ता तारीक एरियन के हवाले से बताया कि धमाके में कम से कम 18 लोगों की मौत हुई है। मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक धमाका पश्चिमी काबुल के शिया बाहुल्य इलाके में स्थित प्रशिक्षण केंद्र के निकट हुआ। तारीक एरियन ने बताया कि हमलावर को सुरक्षा बलों ने केंद्र में जबर्दस्ती घुसने की कोशिश करने के दौरान रोका तो उसने खुद को उड़ा दिया।

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) ने इस धमाके की जिम्मेदारी ली है। तालिबान ने इस हमले में किसी भी तरह का संबंध होने की बात नकार दी है। इससे पहले अगस्त 2018 में हुए इसी तरह के हमले की जिम्मेदारी आईएस से संबंधित संगठन ने ली थी। इस हमले में 34 विद्यार्थियों की मौत हुई थी।

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here