Coronavirus: These Simple 10 Steps Will Reduce The Risk Of Infection – कोरोनावायरस: आज ही उठाएं ये 10 कदम, संक्रमण का खतरा होगा कम

0
41


छोटे-छोटे उपायों से खतरा कम हो सकता है
– फोटो : freepik/WHO

ख़बर सुनें

चीन से फैले खतरनाक कोरोनावायरस ने अब दिल्ली में भी दस्तक दे दी है। इस खतरनाक वायरस से अब तक करीब 3000 लोगों की जान जा चुकी है और 90 हजार के आसपास लोग संक्रमित हैं। समस्या यह है कि अभी तक इसका इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। 

चीन के बाद इस वायरस ने ईरान, हांगकांग, जापान, इटली समेत दर्जनों देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। कोरोनावायरस के दो नए मामले सोमवार को भारत में सामने आए हैं। एक दिल्ली में और दूसरा तेलंगाना में। देश में अब तक कुल पांच मरीजों में इस वायरस की पुष्टि हो चुकी है। 

ऐसे में एहतियाती कदम ही सबसे बड़ा बचाव साबित हो सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एडवाइजरी के मुताबिक रोजमर्रा के जीवन में हम अगर हम छोटे-छोटे काम करते हैं, तो संक्रमण का खतरा काफी कम हो जाएगा। 

1. नियमित तौर पर हाथ धोएं 

  • दिन में कई बार नियमित तौर पर साबुन और पानी से हाथ को कम से कम 20 सेकेंड तक धोएं। बैक्टीरिया मारने वाला अच्छा सेनेटाइजर का भी उपयोग कर सकते हैं। 
  • ऐसा करने से हाथों पर रहने वाले वायरस से छुटकारा मिल जाएगा। 

2. उचित दूरी बनाकर रखें 

  • अपने आसपास के लोगों के साथ कम से कम 3 फीट का फासला बनाए रखने की कोशिश करें। खासतौर से उस व्यक्ति से जिसे खांसी या जुकाम हो। 
  • जब कोई व्यक्ति खांसता है या छींकता है, तो हवा में वायरस फैल जाते हैं। अगर आप ज्यादा करीब रहेंगे तो सांस के रास्ते ये वायरस आपके शरीर में जा सकता है। 

3. नाक, मुंह और आंखों को बार-बार न छुएं 

  • अक्सर हम अपनी नाक, मुंह और आंखों को बार-बार छूते रहते हैं। ऐसा न करें। 
  • हथेलियां कई सतहों को छूती हैं। ऐसे में उस पर वायरस होते हैं। दूषित हथेली से वायरस नाक, मुंह या आंखों के जरिए शरीर में जा सकता है। 

4. छींकते वक्त टिशू का इस्तेमाल करें 

  • अपने आसपास सफाई का खासतौर से ख्याल रखें। ध्यान रहे कि छींकते या खांसते वक्त नाक और मुंह को टिशू से ढंक लें और तुरंत बाद इस टिशू को डस्टबीन में फेंक दें। 
  • छींकने से निकलने वाले तरल पदार्थ में ढेरों वायरस होते हैं और ये तेजी से फैल सकते हैं। 

5. बुखार, खांसी-जुकाम को हल्के में न लें 

  • अगर आपको बुखार, खांसी है या सांस लेने में परेशानी हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। कोशिश करें कि घर पर ही रहें। 
  • डॉक्टर से तुरंत संपर्क करने से बीमारी को शुरुआत में ही पकड़ा जा सकता है। 

 

6. मोबाइल की स्क्रीन को साफ रखें 

  • अपने स्मार्टफोन को हफ्ते में एक बार डिसइंफेटिंग वाइप्स से साफ जरूर करें। ये वाइप्स फोन में ऊपरी भाग में रहने वाले सभी कीटाणुओं को खत्म कर देते हैं।
  • हमारे हाथ में 24 घंटे रहने वाले स्मार्टफोन की स्क्रीन वायरस का बड़ा अड्डा है। स्क्रीन पर मेथिसिलिन रसिस्टेंट स्टेफाय्लोकोक्स औरीयास (एमआरएसए) नाम के जीवाणु होते हैं। 

7. बाथरूम को करें साफ 

  • बाथरूम की सफाई के वक्त शाॅवर को जरूर साफ करें। इसे डिटॉल के पानी से धो सकते हैं। प्लास्टिक के पर्दों का प्रयोग बाथरूम में न करें।
  • शॉवर में मैथालॉबेक्टर समेत कई कीटाणु पनपते हैं। कई शोध में पता चलता है कि ये वायरस शॉवर और बाथरूम के परदों में ज्यादा पनपते हैं। 

8. हवाई यात्रा में रखें ये ख्याल 

  • विमान में क्रू सदस्यों के हाथ से खाने का सामान लेने से पहले अपने हाथ को अच्छे से साफ कर लें। 
  • हवाई यात्रा में क्रू सदस्यों से कोरोनावायरस के फैलने का डर सबसे ज्यादा है। 

9. अस्पताल जाना पड़े तो दही खाएं 

  • अगर आपको अस्पताल में रुकना पड़ रहा है तो कोशिश करें कि अपने खाने में दही का इस्तेमाल करें। 
  • दही में एसीडोफिलस नाम का बैक्टीरिया होता है जो कई तरह के वायरस को खत्म कर देता है। 

10. मास्क पहनें 

  • अगर आपको खांसी या जुकाम है, तो मास्क जरूर पहनें। खासतौर से बाहर निकलते वक्त। 
  • आपके जरिए वायरस दूसरों में संक्रमित हो सकता है, इसलिए खास ख्याल रखें। 
चीन से फैले खतरनाक कोरोनावायरस ने अब दिल्ली में भी दस्तक दे दी है। इस खतरनाक वायरस से अब तक करीब 3000 लोगों की जान जा चुकी है और 90 हजार के आसपास लोग संक्रमित हैं। समस्या यह है कि अभी तक इसका इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। 

चीन के बाद इस वायरस ने ईरान, हांगकांग, जापान, इटली समेत दर्जनों देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। कोरोनावायरस के दो नए मामले सोमवार को भारत में सामने आए हैं। एक दिल्ली में और दूसरा तेलंगाना में। देश में अब तक कुल पांच मरीजों में इस वायरस की पुष्टि हो चुकी है। 

ऐसे में एहतियाती कदम ही सबसे बड़ा बचाव साबित हो सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एडवाइजरी के मुताबिक रोजमर्रा के जीवन में हम अगर हम छोटे-छोटे काम करते हैं, तो संक्रमण का खतरा काफी कम हो जाएगा। 

1. नियमित तौर पर हाथ धोएं 

  • दिन में कई बार नियमित तौर पर साबुन और पानी से हाथ को कम से कम 20 सेकेंड तक धोएं। बैक्टीरिया मारने वाला अच्छा सेनेटाइजर का भी उपयोग कर सकते हैं। 
  • ऐसा करने से हाथों पर रहने वाले वायरस से छुटकारा मिल जाएगा। 

2. उचित दूरी बनाकर रखें 

  • अपने आसपास के लोगों के साथ कम से कम 3 फीट का फासला बनाए रखने की कोशिश करें। खासतौर से उस व्यक्ति से जिसे खांसी या जुकाम हो। 
  • जब कोई व्यक्ति खांसता है या छींकता है, तो हवा में वायरस फैल जाते हैं। अगर आप ज्यादा करीब रहेंगे तो सांस के रास्ते ये वायरस आपके शरीर में जा सकता है। 

3. नाक, मुंह और आंखों को बार-बार न छुएं 

  • अक्सर हम अपनी नाक, मुंह और आंखों को बार-बार छूते रहते हैं। ऐसा न करें। 
  • हथेलियां कई सतहों को छूती हैं। ऐसे में उस पर वायरस होते हैं। दूषित हथेली से वायरस नाक, मुंह या आंखों के जरिए शरीर में जा सकता है। 

4. छींकते वक्त टिशू का इस्तेमाल करें 

  • अपने आसपास सफाई का खासतौर से ख्याल रखें। ध्यान रहे कि छींकते या खांसते वक्त नाक और मुंह को टिशू से ढंक लें और तुरंत बाद इस टिशू को डस्टबीन में फेंक दें। 
  • छींकने से निकलने वाले तरल पदार्थ में ढेरों वायरस होते हैं और ये तेजी से फैल सकते हैं। 

5. बुखार, खांसी-जुकाम को हल्के में न लें 

  • अगर आपको बुखार, खांसी है या सांस लेने में परेशानी हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। कोशिश करें कि घर पर ही रहें। 
  • डॉक्टर से तुरंत संपर्क करने से बीमारी को शुरुआत में ही पकड़ा जा सकता है। 

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here