Coronavirus Irish National Suspected To Infected With Virus And Sent To Isolation Ward, Fled Away – अस्पताल से भागा आइरिश नागरिक, कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से था भर्ती

0
55


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भुवनेश्वर
Updated Fri, 06 Mar 2020 11:12 AM IST

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

आयरलैंड का एक नागरिक जिसके कोरोनावायरस से संक्रमित होने की संभावना है, वह गुरुवार रात अस्पताल से भाग गया है। इस घटना से लोगों में दहशत फैल गई है। अधिकारियों ने बताया कि उसे एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड भेजा गया था। नागरिक में फ्लू जैसे लक्षण दिखाई दिए थे। 

संभावित संक्रमित व्यक्ति की गुरुवार को बीजू पटनायक अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर स्क्रीनिंग की गई थी और उसे शहर के कैपिटल अस्पताल ले जाया गया था। अस्पताल के आपातकालीन अधिकारी बी महाराणा ने बताया कि बाद में उसे कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में एक अन्य व्यक्ति के साथ रेफर किया गया था। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने कहा, ‘अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि दोनों कैसे भाग गए। एक बार यदि कोई व्यक्ति कोरोनावायरस से संक्रमित पाया जाता है तो उसे आइसोलेशन में रखा जाता है। यह आवश्यक है। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि यह कैसे हुआ। हमने मंगलाबाग पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है।’ 

इसी बीच उत्तर प्रदेश के कानपुर के दंपति जो सिंगापुर के जहाज से परादीप बंदरगाह पर तीन मार्च को आए थे वह कोरोनावायरस के संक्रमण से मुक्त हैं। मालवाहक जहाज केमिस्ट स्टैलर के चालक दल के सदस्य जो चीन से लगभग 20,000 लीटर सल्फ्यूरिक एसिड लेकर आ रहे थे उनके शरीर का तापमान ज्यादा और गले में खराश थी।

जिसके बाद दंपति को एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के निदेशक अजीत मोहंती ने कहा कि बेशक दंपति कोरोनावायरस से संक्रमित नहीं हैं उन्हें अगले एक हफ्ते के लिए एहतियातन आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

आयरलैंड का एक नागरिक जिसके कोरोनावायरस से संक्रमित होने की संभावना है, वह गुरुवार रात अस्पताल से भाग गया है। इस घटना से लोगों में दहशत फैल गई है। अधिकारियों ने बताया कि उसे एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड भेजा गया था। नागरिक में फ्लू जैसे लक्षण दिखाई दिए थे। 

संभावित संक्रमित व्यक्ति की गुरुवार को बीजू पटनायक अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर स्क्रीनिंग की गई थी और उसे शहर के कैपिटल अस्पताल ले जाया गया था। अस्पताल के आपातकालीन अधिकारी बी महाराणा ने बताया कि बाद में उसे कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में एक अन्य व्यक्ति के साथ रेफर किया गया था। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने कहा, ‘अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि दोनों कैसे भाग गए। एक बार यदि कोई व्यक्ति कोरोनावायरस से संक्रमित पाया जाता है तो उसे आइसोलेशन में रखा जाता है। यह आवश्यक है। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि यह कैसे हुआ। हमने मंगलाबाग पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है।’ 

इसी बीच उत्तर प्रदेश के कानपुर के दंपति जो सिंगापुर के जहाज से परादीप बंदरगाह पर तीन मार्च को आए थे वह कोरोनावायरस के संक्रमण से मुक्त हैं। मालवाहक जहाज केमिस्ट स्टैलर के चालक दल के सदस्य जो चीन से लगभग 20,000 लीटर सल्फ्यूरिक एसिड लेकर आ रहे थे उनके शरीर का तापमान ज्यादा और गले में खराश थी।

जिसके बाद दंपति को एससीबी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के निदेशक अजीत मोहंती ने कहा कि बेशक दंपति कोरोनावायरस से संक्रमित नहीं हैं उन्हें अगले एक हफ्ते के लिए एहतियातन आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here