Cm Mamata Banerjee Said All Bangladeshis Living In West Bengal Are Indian Citizens – बांग्लादेश से आए और पश्चिम बंगाल में रह रहे सभी लोग भारतीय नागरिक: ममता

0
47


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कोलकाता।
Updated Tue, 03 Mar 2020 05:06 PM IST

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी
– फोटो : एएनआई

ख़बर सुनें

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि जो लोग बांगलादेश से आए थे और अब प्रदेश में रहकर चुनावों में वोट दे रहे हैं, ऐसे लोग भारतीय हैं, उन्हें देश की नागरिकता पाने के लिए नए सिरे से दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है।

बनर्जी ने हाल ही में दिल्ली में हुई हिंसक घटनाओं को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। दिल्ली में 42 से ज्यादा लोगों के मारे जाने को लेकर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार हिंसा को रोकने में नाकाम रही, मैं बंगाल का हाल दिल्ली जैसा नहीं होने दूंगी।

उत्तर दिनाजपुर जिले में एक रैली में उन्होंने कहा कि जो लोग बांग्लादेश से आए हैं, वे भारत के नागरिक हैं… उन्हें नागरिकता मिल चुकी है। आपको फिर से नागरिकता के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। आप चुनावों में वोट डाल रहे हैं, पीएम और सीएम का चुनाव कर रहे हैं… अब वे कह रहे हैं कि आप नागरिक नहीं हैं… ऐसे लोगों पर विश्वास मत करो। 

उन्होंने यह भी कहा कि वह एक भी व्यक्ति को बंगाल से बाहर नहीं जाने देंगी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनर्जी कहा कि राज्य में रहने वाला कोई भी शरणार्थी नागरिकता से वंचित नहीं रहेगा।

दिल्ली हिंसा को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए टीएमसी प्रमुख ने कहा कि मत भूलो कि यह बंगाल है। दिल्ली में जो हुआ वह यहां कभी नहीं होने दिया जाएगा। हम नहीं चाहते कि बंगाल दूसरे दिल्ली या दूसरे उत्तर प्रदेश बने।

बता दें कि भाजपा ने अक्सर ममता बनर्जी पर मुस्लिम तुष्टिकरण और अल्पसंख्यक समुदाय को ध्यान में रखते हुए वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाती रही है।

पुलिस ने रविवार को कोलकाता में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली से पहले ‘गोली मारो…’ नारे लगाने के आरोप में उत्तर 24 परगना जिले से सुजीत बरुआ नामक एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। इससे पहले इस मामले में सोमवार तड़के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।

इस मामले में पहले गिरफ्तार किए गए तीन लोगों में से पंकज प्रसाद और सुरेंद्र कुमार तिवारी को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया है। तीसरे अभियुक्त ध्रुव बसु को उम्र व बीमारी को ध्यान में रखते हुए निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई थी। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पहचाने गए कुछ अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही है। दूसरी ओर, प्रदेश भाजपा नेताओं ने इसे तृणमूल कांग्रेस की साजिश करार दिया है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि जो लोग बांगलादेश से आए थे और अब प्रदेश में रहकर चुनावों में वोट दे रहे हैं, ऐसे लोग भारतीय हैं, उन्हें देश की नागरिकता पाने के लिए नए सिरे से दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है।

बनर्जी ने हाल ही में दिल्ली में हुई हिंसक घटनाओं को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। दिल्ली में 42 से ज्यादा लोगों के मारे जाने को लेकर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार हिंसा को रोकने में नाकाम रही, मैं बंगाल का हाल दिल्ली जैसा नहीं होने दूंगी।

उत्तर दिनाजपुर जिले में एक रैली में उन्होंने कहा कि जो लोग बांग्लादेश से आए हैं, वे भारत के नागरिक हैं… उन्हें नागरिकता मिल चुकी है। आपको फिर से नागरिकता के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। आप चुनावों में वोट डाल रहे हैं, पीएम और सीएम का चुनाव कर रहे हैं… अब वे कह रहे हैं कि आप नागरिक नहीं हैं… ऐसे लोगों पर विश्वास मत करो। 

उन्होंने यह भी कहा कि वह एक भी व्यक्ति को बंगाल से बाहर नहीं जाने देंगी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनर्जी कहा कि राज्य में रहने वाला कोई भी शरणार्थी नागरिकता से वंचित नहीं रहेगा।

दिल्ली हिंसा को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए टीएमसी प्रमुख ने कहा कि मत भूलो कि यह बंगाल है। दिल्ली में जो हुआ वह यहां कभी नहीं होने दिया जाएगा। हम नहीं चाहते कि बंगाल दूसरे दिल्ली या दूसरे उत्तर प्रदेश बने।

बता दें कि भाजपा ने अक्सर ममता बनर्जी पर मुस्लिम तुष्टिकरण और अल्पसंख्यक समुदाय को ध्यान में रखते हुए वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाती रही है।


आगे पढ़ें

कोलकाता: शाह की रैली के दौरान ‘गोली मारो’ नारे पर एक और गिरफ्तार





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here